तोरई की सब्जी ऐसे बनाएंगे तो गारंटी है कि नहीं खाने वाले भी उंगलियां चाट चाट कर खाएंगे।

तोरई की सब्जी गर्मियों में ठंडक देती है क्योंकि तोरई की तासीर ठंडी होती है। जहां एक ओर गर्मियों में कोई भी सब्जी का स्वाद उतर जाता है और सब्जियां अच्छी नहीं लगती, वहीं तोरई और लौकी गर्मियों की सब्जियों में बेहतरीन विकल्प है। तोरई में विटामिन सी, आयरन, मैग्नीशियम, थियामिन, रिबोफ्लेविन और जिंक होता है, जो इम्यूनिटी को मजबूत बनाने में मदद करते हैं।

इसके नियमित सेवन से खून की कमी दूर होती है। यह डायबिटीज व कब्ज में फायदेमंद है। वजन को कम करने में सहायक होने के साथ-साथ त्वचा और हृदय के लिए फायदेमंद है। इससे सेवन से कैंसर का खतरा कम होता है। बुजुर्गों के लिए तो ये अमृत है।

गर्मियों में जहां पेट की समस्या, पेट मे जलन, गर्मी होती है तो वहीं ये तोरई की सब्जी हमारे पेट को शीतलता प्रदान कर गर्मी से राहत दिलाती है। आज हम आपको स्वादिष्ट तोरई की सब्जी के बारे में बताएंगे। तोरई की सब्जी ऐसे बनाएंगे तो गारंटी है कि नहीं खाने वाले भी उंगलियां चाट चाट कर खाएंगे।
आइए जानते हैं तोरई की सब्जी के बारे में अद्भुत जानकारी

तोरई लेते समय इन बातों का रखें ध्यान।

  • सब्जी खरीदते समय हमेशा ताजी व कोमल सब्जियां ही खरीदना चाहिए।
  • तोरई की सब्जी नरम व छोटी ही खरीदें। नरम तोरई सुपाच्य होती है व जल्दी पकती है।
  • नरम तोरई का स्वाद मीठा व बहुत स्वादिष्ट होता है।
  • बड़ी तोरई में बीज भी बड़े-बड़े होते हैं जो सब्जी का स्वाद बिगाड़ देते हैं।
  • तोरई हमेशा ठोस लें जो अंदर से खोखली नहीं होनी चाहिए। तथा दबाने से दबनी नहीं चाहिए। ऐसी तोरई ताजी होती है।
  • बासी व मुरझाई हुई तोरई अलग से दिखती है।
  • हमेशा ताजी सब्जियां खरीदें, इनमे पोषक तत्व ज्यादा मात्रा में होते हैं।

तोरई की स्पेशल सब्जी बनाने की संपूर्ण सामग्री।

  • 2-3 बड़े चम्मच घी
  • 1 छोटा चम्मच जीरा
  • ¼ छोटा चम्मच हींग
  • नमक स्वादानुसार
  • ½ छोटा चम्मच हल्दी पाउडर
  • ½ छोटा चम्मच देगी लाल मिर्च पाउडर
  • 1 छोटा चम्मच धनिया पाउडर
  • ½ चम्मच चाट मसाला या गरम मसाला
  • ½ चम्मच अमचूर पाउडर
  • ½ किलो तोरई- कटी हुई
  • 2 मध्यम आकार के आलू
  • 4-5 टमाटर
  • 3 कटी हुई हरी मिर्च
  • हरा धनिया – कटा हुआ (गार्निश के लिए)
कुल समयतैयारी का समयपकने के समयमात्रा
25 मिनट10 मिनट15 मिनट4 लोगों के लिए

तोरई की स्पेशल सब्जी बनाने की संपूर्ण विधि।

तोरई की सब्जी बनाना बहुत ही आसान है। यह कम मसालों में तैयार की जाती है। इसमें टमाटर का विशेष स्थान है। टमाटर, अमचूर व नींबू का संयोजन से यह सब्जी बहुत ही लाजवाब तैयार होती है। आइए बनाते हैं लाजवाब तोरई की सब्जी की रेसिपी

  • तोरई को धोकर छील लें। अपने मन पसंद आकार में काट लें। तोरई बहुत नरम होती है। पकने पर एकदम घुल जाती है।
  • 2 आलू धोकर छील लें। आलू को काटकर पानी मे भिगा कर रख दें।
  • 4-5 टमाटर काट लें।
  • गैस पर कढ़ाई चढ़ा दें। थोड़ा सा घी डालकर एक पिंच हींग व जीरा डालकर तड़का लगाएं।
  • कटे हुए टमाटर डालकर थोड़ा सा नमक डालकर पकाएं। टमाटर जल्दी पक जाएंगे। टमाटर को पीसकर भी डाल सकते हैं।
  • टमाटर पकने पर उसमें सूखे पिसे हुए मसाले धनिया पाउडर, कश्मीरी लाल मिर्च पाउडर, चाट मसाला या गरम मसाला, अमचूर पाउडर, ऊपर लिखे अनुपात से डालकर फ्राई करें।
  • अब तैयार फ्राई मसाले में कटी हुई गिलकी या तोरई व कटे हुए आलू डालें।
  • अच्छे से मिलाएं नमक डालकर पकने दें। बीच-बीच मे चलाते रहें।
  • वैसे तो तोरई में खुद बहुत पानी रहता है। किंतु यदि पानी सूख जाए तो थोड़ा सा पानी पकने के लिए मिला सकते हैं।
  • इसके अलावा आपको सब्जी रसेदार बनानी हो तो पानी की मात्रा आवश्यकतानुसार कम ज्यादा कर सकते हैं।
  • सब्जी 10 मिनट में पककर तैयार हो जाती है।
  • पकने के बाद कटी हुई हरी धनिया व कटी हरी मिर्च को ऊपर से डालकर सजाएं। आपकी सब्जी सर्व करने के लिए तैयार है।
  • सूखी सब्जी को टिफिन में भी रख सकते हैं। यह बहुत ही स्वादिष्ट लगती है। इसे रोटी, पराठा, पूड़ी, या भोजन में चावल के साथ शौक से परोस सकते हैं।
  • इसका स्वाद इतना लाजवाब होता है कि लोग उंगलियां चाटते रह जाएंगे। एक बार अवश्य इस तरीके से तोरई की सब्जी बनाकर देखें।

इन बातों का रखें खास ध्यान।

  • तोरई की सब्जी का स्वाद मिठास लिए होता है। इसीलिए टमाटर, अमचूर व नींबू के उचित संयोग से बहुत ही टेस्टी खट्टा-मीठा से स्वाद तैयार होता है। जो बहुत ही अच्छा लगता है।
  • कोई-कोई तोरई का स्वाद कसैला से भी होता है। अतः हमेशा तोरई की सब्जी बनाने के पहले प्रत्येक तोरई को थोड़ा सा काटकर अवश्य चख लें। अन्यथा पूरी सब्जी बनाने की मेहनत खराब हो सकती है।
  • घी में सब्जी बनाने से सब्जी में मलाईदार स्वाद आता है।
  • तोरई की सब्जी में आप आलू डालना चाहें तो डालें, न डालना चाहें तो न डालें।
  • तोरई की सब्जी पकने पर कम हो जाती है। अतः यदि आप सूखी सब्जी बना रहीं हैं तो मात्रा का अवश्य ध्यान रखें।
  • तोरई स्वयं पानी छोड़ती है, अतः इसमें अलग से पानी डालने की जरूरत नहीं पड़ती है। किंतु रसीली सब्जी बनाने के लिए आवश्यकतानुसार पानी का इस्तेमाल करें।

हमारे शब्द।

आज हमने आपको तोरई की सब्जी को खरीदने के तरीके से लेकर सब्जी में लगने वाली सामग्री व सब्जी बनाने की आसान व लाजवाब रेसिपी बताई है। तोरई की सब्जी ऐसे बनाएंगे तो गारंटी है कि नहीं खाने वाले भी उंगलियां चाट चाट कर खाएंगे। तो देर न करें गर्मियों की लाजवाब सब्जी तोरई को आज अपने मीनू में जोड़ें और तैयारी शुरू करें।

हां एक बात जरूर ध्यान में रखें की अच्छी व टेस्टी सब्जी बनाने की शुरुआत किचन से नहीं बल्कि सब्जी मार्केट से शुरू हो जाती है। सब्जी आँखों से देखकर, नाक से सूंघकर, व हाथों से छूकर जांच-परख कर ही खरीदें। जल्दबाजी का सौदा आपके टेस्ट और हेल्थ को नुकसान पहुंचा सकता है।

आप झटपट तैयारी करें और तोरई की सब्जी बनाएं। फिर हमें बताएं कि आपको यह रेसिपी कैसी लगी और आपकी सब्जी कैसी बनी। आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

Leave a Comment